रायपुर बाजार में नकली नोट खपाने निकले 5 आरोपी गिरफ्तार

महासमुंद। त्योहारी सीजन में भारी मात्रा में नकली नोट खपाने का बड़ा खुलासा हुआ है. बाजार में नकली नोट खपाने निकले 5 आरोपियों को पुलिस ने दबोचा है. आरोपियों के कब्जे से 21 लाख रुपए के नकली नोट की जब्त की गई है. महासमुंद एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने मामले का खुलासा किया है.

रायपुर के एक बड़े व्यापारी ने आरोपियों से संपर्क किया था. व्यापारी ने 15 लाख की मांग की थी. जिसे आरोपी डिलिवर करने के लिए रवाना हुआ था. इससे पहले ही मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसे आरंग नदी मोड़ के पास धर दबोचा. आरोपी से 13 लाख रुपए जब्त किया गया. मुख्य आरोपी की निशानदेही के आधार पर उसके अन्य आरोपियों को पकड़ा गया. जिनसे कुल रकम 21 लाख 27 हजार रुपए जब्त किया गया.

पुलिस की पूछताछ में मुख्य आरोपी कलाराम ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि फोटोकॉपी प्रिंटर मशीन को उसने लोन लेकर खरीदा था. लेकिन लॉकडाउन की वजह से वहां नोट नहीं खपा पाया. पूछताछ में आरोपी ने यह भी बताया कि पहले वह 10 और 20 की नोट छाप कर भीड़ भाड़ वाले इलाके में खपाता था. जिसके बाद उसने 500 और 100-100 के नोट छापने का प्लान बनाया था. आरोपी ने बताया कि रायपुर के एक बड़े व्यापारी ने उससे 15 लाख रुपये के नकली नोट की मांग की थी, उसे डिलीवरी देने वो नदी मोड़ के पास पहुंचा था, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

पांच आरोपी गिरफ्तार

  1. कलाराम उर्फ रामदास पिता कृपाराम नायक (29) जैतपुर थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार.

2 मुन्नालाल पिता बहुरसिंग भारती (50 वर्ष) बिलासपुर (टाटा) थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार.

  1. दुर्गा पिता मन्नीराम कुरे (52) बिलासपुर (टाटा) थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार.
  2. रेशम पिता टेंको कोसले (24) ओड़काकन थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार.
  3. भूपेन्द्र पिता कामता जांगड़े (26) ओडकाकन थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार.

पहले 10-20 रुपए के नोट चलाए

आरोपी कलाराम ने पुलिस को बताया कि शुरू में 10-20 नकली नोट (500,100 और 50 रूपयें के) छापकर उसे भीड़ भरे जगहों में चलाने की कोशिश की और कुछ लोगों को चलाकर देखने के लिए भी दिया. एकदम भीड़ भरे स्थानों पर थोड़ी सी बातों की चलाकी के साथ कलाराम के नकली नोट चल गये तथा जिन लोगों को इसे चलाने के लिए दिया था जैसे मुन्नालाल भारती, दुर्गा कुरे, रेशम कोसले, भूपेन्द्र जांगडे के नकली नोट भी भीड़ भरे स्थानों में चल गए. जिससे इन नोटों की मांग होने लगी.

15 लाख की करने वाले थे डिलिवरी

रायपुर के एक व्यापारी ने लगभग 15 लाख रुपये की नकली नोट की मांग की थी. जिसकी डिलिवरी नदी मोड पुल के आसपास करने की बात हुई थी. उस डिलवरी करने के लिए ही कलाराम अपने साथी मुन्नाराम के साथ नदी मोड़ आया था. पुलिस की टीम इन सारे लोगों से पूछताछ कर पता लगाने की कोशिश कर रही थी कि ऐ लोग कब से नकली नोट छापकर उसे खपाने का कार्य कर रही है. अभी तक कितने नकली नोट किन-किन लोगो को खपाने के लिए दे चुके है वे लोग किन स्थानों पर इन नकली नोटो को खपाते थे.

बलौदाबाजार जिले के सभी आरोपी

पुलिस की टीम ने कलाराम उर्फ रामदास से मौके पर सफेद रंग के झोला में रखे 13 लाख रुपए तथा जैतपुर थाना सरसीवा जिला बलौदाबाजार घर में स्थित दुकान से 1 लाख 20 हजार के नकली नोट, मुन्नालाल के पास मौके से 2 लाख 40 हजार रुपए, दुर्गा कुर्रे के पास घर बिलासपुर (टाटा) थाना सरसीवा से 2 लाख 57 हजार रुपए, रेशम कोसले के पास घर ओडकाकन थाना सरसीवा से 90,000 रुपए, भूपेन्द्र जांगड़े के पास घर ओडकाकन थाना सरसीवा से 1 लाख 20 हजार रुपए के कुल 21 लाख 27 हजार रुपए 500-500 के तीन सीरीज के तथा 100 रुपए के एक सीरीज के नोट बरामद किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *